पुलिसकर्मियों ने ‘अम्मा’ को पहले खाना खिलाया, फिर शिकायत का निस्तारण कराया, हर तरफ हो रही तारीफ

अपना एटा-कासगंज होमपेज स्लाइडर

एटा: पुलिस के आचरण पर पर तो पल भर में सवाल उठा दिए जाते हैं. लेकिन बुनियादी सुविधाओं की कमी के बावजूद हर मौसम में ये आम जनता की कैसे सेवा करते हैं इसकी सराहना करने में हम लोगों के शब्द कम प़ड़ जाते हैं. बिना छुट्टी और बिना आराम के लगातार काम के साथ साथ खाकीधारी मानवता का परिचय देना नहीं भूलते. दायित्व और कर्तव्यनिष्ठा को निभाने की ताजा मिसाल बनी है एटा जिले के थाना राजा का रामपुर की पुलिस ।

जब खाकी ने देखा बूढ़ी आखों में पानी
एटा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उदय शंकर सिंह के निर्देशन में एटा पुलिस पहले से जरुरतमंदों की मदद को आगे आ रही है. लेकिन थाना राजा के रामपुर में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां भगवनपुरा निवासी एक वृद्ध महिला अपनी जमीन पर हो रहे अवैध कब्जे की शकायत लेकर थाने आई थीं. उसी दौरान थाना प्रभारी ने महसूस किया वो बूढ़ी महिला भूखी है. शिकायत सुनने और समाधान के निस्तारण से पहले थाना प्रभारी ने महिला आरक्षी प्रवेश चौधरी से मैंस से खाना मंगवाकर बूढ़ी अम्मा को खाना खिलवाया. पानी पिलाया. फिर अवैध कब्जे की शिकायत पर गंभीरता से एक्शन लेकर उनका निस्तारण कराया.और हर संभव मदद का भरोसा भी दिया. एटा पुलिस के इस व्यवहार की सोशल मीडिया पर भी तारीफ हो रही है ।

क्या था मामला?
दरअसल, एटा के थाना राजा का रामपुर क्षेत्र के भगवानपुरा निवासी महिला का आऱोप था कि, उनकी जमीन पर गांव के ही कुछ लोग उनकी जमीन पर कब्जा कर अवैध निर्माण कर रहे है. इसी संदर्भ में वो वृद्ध महिला शिकायत करने थाने पहुंची थीं. थाना प्रभारी ने देखा कि, ‘बूढ़ी अम्मा’ भूख से ब्याकुल थीं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *