विस चुनावों से पहले यूपी की जनता को मिली राहत, नहीं बढ़ेगी बिजली की कीमत

अपना लखनऊ होमपेज स्लाइडर

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने राज्य की जनता को बड़ी सौगात दी है. योगी आदित्यनाथ की घोषणा और कोविड-19 के प्रकोप को देखते हुए राज्य विद्युत नियामक आयोग ने पिछले साल की तरह इस साल भी बिजली दरों में किसी तरह का बदलाव नहीं किया है. सभी श्रेणी के उपभोक्ताओं के लिए 2021-22 में मौजूदा दरें ही प्रभावी रहेंगी.

आयोग के फैसले से प्रदेश के करीब 3 करोड़ बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत मिली है. आयोग ने आदेश दिया है कि अभी वही टैरिफ लागू रहेगा जो वर्तमान में है. इसमें कोई बदलाव नहीं होगा. हालांकि, इस फैसले से बिजली कंपनियों को झटका लगा है.

इलाहाबाद हाईकोर्ट में हुई थी सुनवाई 
बता दें कि इसी साल जून में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने टैरिफ बदलने के प्रस्ताव पर रोक लगा दी थी. मामले को लेकर हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत नियामक आयोग से भी जवाब-तलब किया था और आयोग से 8 जुलाई तक अपना जवाब दाखिल करने को कहा था. टैरिफ में बदलाव के प्रस्ताव में नियमों की अनदेखी का आरोप था.

Youtube से जुड़ने के लिए क्लिक करें…

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *