‘अपना उत्तर प्रदेश’ के शो का एक और दमदार असर, सीएम योगी ने कर्मचारियों को दी राहत

अन्य जिले अपना लखनऊ बिना श्रेणी होमपेज स्लाइडर

लखनऊ: ‘अपना उत्तर प्रदेश’ न्यूज नेटवर्क पर शाम 7 बजे होने वाले डिबेट शो का एक बार फिर बड़ा असर हुआ है. दरअसल, पंचायत चुनाव की ड्यूटी में कोरोना के शिकार हुए शिक्षक और कर्मचारियों की मौत के मामले पर सियासी महाभारत छिड़ी हुई थी. क्योंकि, शिक्षक संगठन जहां 1621 शिक्षकों की मौत का दावा कर रहे थे, वहीं अधिकारियों ने अपनी रिपोर्ट में मात्र 3 शिक्षकों की मौत की बात कही. इस रिपोर्ट के बाद सूबे में सियासी हलचल शुरू हो गई और शिक्षक संगठनों ने नाराजगी जाहिर कर दी ।

‘अपना उत्तर प्रदेश’ ने उठाया मुद्दा

अधिकारियों के आंकड़े, शिक्षक संगठनों की नाराजगी और मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए ApnaUttarpradesh News Network ने इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया इस शो में बीजेपी की ओर से प्रवक्ता वीनीत शुक्ला, कांग्रेस से अंशु अवस्थी, राज्य कर्मचारी परिषद के अध्यक्ष हरिकिशोर तिवारी, शिक्षक नेता सुधेश पांडे शामिल हुए. वहीं इस शो का नतीजा ये रहा कि, खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लेते हुए मुख्य सचिव और अपर मुख्य सचिव पंचायती राज को निर्देश दिए कि, राज्य निर्वाचन आयोग से संवाद कर ऐसे हर कर्मचारी के परिवार को दिलायी जाए आर्थिक सहायता और नौकरी, जिनकी चुनाव ड्यूटी के दौरान मौत हुई ।

 

मुख्यमंत्री ने दिए आदेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस संवेदनशील मुद्दे पर कहा कि, हर एक मौत दुखद है, राज्य सरकार की संवेदना हर नागरिक के साथ है, चुनाव ड्यूटी करने वाले जो भी व्यक्ति कोरोना के कारण दिवंगत हुए हैं, उन्हें चुनाव आयोग की गाइड लाइन में संशोधन कर मुआवजा व नौकरी दिए जाने की बात कही. सीएम योगी ने कहा चूंकि चुनाव आयोग की गाइडलाइन जब जारी हुई थी उस समय कोरोना नहीं था इसलिए मुख्य सचिव को निर्देश दिए गए हैं कि इलेक्शन ड्यूटी के कारण जिन कर्मियों को संक्रमण हुआ और बाद में उनकी मौत हुई, उन सभी को नियमानुसार मुआवजा देने के संबंध में चुनाव आयोग से संवाद करें।

शो का लिंक-

https://fb.watch/5Ci1S1Hzhb/

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *