कोरोना को लेकर अधिकारियों से सीएम योगी ने लिया फीडबैक

अपना लखनऊ होमपेज स्लाइडर

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लॉकडाउन की कार्रवाई को और अधिक प्रभावी बनाने के निर्देश दिये है. उन्होंने कहा कि  जिला व पुलिस प्रशासन के अधिकारी संयुक्त रूप से पेट्रोलिंग करें. किसी भी स्थल पर भीड़ न इकट्ठी होने दी जाए. पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से आम जनता को घर से बाहर न निकलने और लॉकडाउन का पालन करने के लिए जागरूक किया जाए. आमजन को आवश्यक वस्तुएं होम डिलीवरी व्यवस्था के माध्यम से उपलब्ध कराइ जाएं. जमाखोरी, कालाबाजारी, मुनाफाखोरी के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाए.

कालाबाजारी करने वालों पर लगे एनएसए

सीएम ने सख्त आदेश दिए की ऐसे कार्यों में लिप्त व्यक्तियों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी की जाए. आवश्यकता पड़ने पर एनए0ए के अन्तर्गत भी कार्रवाई की जाए.
मुख्यमंत्री योगी गुरुवार को अपने सरकारी आवास पर कोरोना वायरस के नियंत्रण हेतु लागू की गयी लॉकडाउन व्यवस्था के क्रियान्वयन की समीक्षा कर रहे थे. उन्होंने कहा है कि लॉकडाउन की अवधि में आमजन को आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध कराने के लिए होम डिलीवरी सिस्टम को सुदृढ़ किया जाए. इसके लिए स्वयंसेवी संस्थाओं के साथ समन्वय कर वॉलंटियर्स तैयार किये जाएं.

डोर टू डोर होगी डिलीवरी

उन्होंने कहा कि होम डिलीवरी के माध्यम से सब्जी, दूध, दवा आदि की आपूर्ति में 14,000 से अधिक वाहन वॉलंटियर्स के साथ योगदान दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि लोग आवश्यकता पड़ने पर कंट्रोल रूम, ‘112’, ‘108’, ‘102’ आदि नम्बरों पर सम्पर्क करें. मुख्यमंत्री ने कहा कि रैन बसेरों, आश्रय स्थलों, सीमावर्ती क्षेत्रों में रुके हुए लोगों तक प्राथमिकता के आधार पर भोजन एवं पेयजल उपलब्ध कराया जाए. इस कार्य में वॉलंटियर्स का सहयोग लिया जाए.

 

 

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *