यूपी में लॉकडाउन पर बोले सीएम योगी आदित्यनाथ…

अपना लखनऊ अपनी सेहत होमपेज स्लाइडर

लखनऊ: कोरोना (Corona) के लगातार बढ़ते मामलों के बीच उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन लगाने की खबरें तेजी से पांव पसारती दिख रही हैं. कुछ गैरजिम्मेदार लोग बीते साल हुए लॉकडाउन की वीडियो भी सोशल मीडिया पर प्रसारित कर अफवाह फैलाने जैसा अपराध कर रहे हैं. इसी सिलसिले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण (Corona Infection) को लेकर जिलों में अफसरों को काफी सख्त लहजे में चेताया है. सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने अफसरों से साफ और सख्त लहजे में कहा है कि, ‘गलतफहमी में न रहें, प्रदेश में लॉकडाउन नहीं लगेगा. हम जनता को मरने नहीं देंगे, बेड की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए. पहले से पूरी तैयारी करें. आवश्यकतानुसार निजी हॉस्पिटलों और मेडिकल कॉलेजों का टेकओवर करें. मुख्यमंत्री ने जिलों में टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रीटमेंट पर जोर दिया

अधिक वसूली वालों पर कारर्वाई के निर्देश

अस्पतालों में बेड की कमी पर उन्होंने L 2 और L 3 के बेड्स पर्याप्त मात्रा में बढ़ाने के निर्देश दिए हैं. इसके लिए उन्होंने निजी हॉस्पिटल और मेडिकल कॉलेज का टेकओवर करने के भी निर्देश दिए हैं. उन्होंने निजी अस्पतालों और लैब में निर्धारित दरों से अधिक वसूली पर नाराजगी जाहिर की और कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि किसी की मजबूरी का फायदा, नहीं उठाने दिया जाएगा. इसे सख्ती के साथ रोकें. गलत जानकारी देने पर कठोर कार्रवाई होगी. मरीजों को सम्य पर एंबुलेंस नहीं मिलने की शिकायत पर सीएम ने 108 एंबुलेंस सेवा का रेस्पांस टाइम 15 मिनट रखने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने पूरी लड़ाई का केंद्र बिंदु इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर को बनाने और उसकी एक-एक गतिविधि की निगरानी पर जोर दिया है।

निजी लैब्स भी टेकओवर
सीएम योगी (CM Yogi Adityanath) ने जांच और उसकी रिपोर्ट में देरी पर अधिकारियों को निर्देशित किया है कि इस बारे में निजी लैब्स का भी सहयोग लिया जाए और जरूरी हो तो टेकओवर कर इसके बदले में पेमेंट किया जाए, लेकिन किसी सूरत में जांच रिपोर्ट में देरी नहीं होनी चाहिए. उन्होंने लैब और टेस्टिंग की क्षमता के विस्तार पर जोर दिया है. आरटीपीसीआर की टेस्ट की क्षमता को 70 फीसदी तक पहुंचाने के निर्देश दिए हैं ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *