लोकसभा चुनावों से पहले पिछड़ा पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र, अलीगढ़ बना नबंर वन

अपना अलीगढ़ होमपेज स्लाइडर

अलीगढ़: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सबसे महत्वपूर्ण और महत्वकांक्षी योजना ‘प्रधानमंत्री उज्जवला योजना’ ने लाखों घरों की महिलाओं के अंधियारे को दूर करने का काम किया है. वो आधी आबादी जो आजादी के बाद से अब तक धुएं के आगोश में घुट रही थी. उनमें उजाले की किरण उज्जवला योजना के जरिए पहुंचाने का काम पीएम नरेंद्र मोदी ने किया.

सबसे आगे अलीगढ़


प्रधानमंत्री उज्जवला योजना में लाभार्थियों का जो आंकड़ा सामने आया है. उसमें अलीगढ़ जिले की स्थिति दूसरे जिलों की बराबरी में ज्यादा बेहतर हुई है. अलीगढ़ शहर उज्जवला योजना के अंतर्गत दिए गए गैस कनेक्शनों के मामले में आगे और बनारस बहुत पीछे हैं.

यह भी पढ़ें : नए साल पर पीएम मोदी का धमाकेदार इंटरव्यू, जानिए 10 बड़ी बातें

मोदी के संसदीय क्षेत्र को अलीगढ़ ने पछाड़ा
प्रधानमंत्री उज्जवला योजान में अलीगढ़ में अब तक करीब 1 लाख 45 हजार से ज्यादा एलपीजी गैस कनेक्शन दिए गए हैं. वहीं पीएम मोदी के संसीदय क्षेत्र वाराणसी उज्जवला योजना के मामलों में पिछड़ा हुआ है. देश के गरीब परिवारों में उजाले की ये योजना वाराणसी-बलिया से ही शुरू की गई थी.

यह भी पढ़ें : Good News : अगर आपके पास है ये कार्ड तो मुफ्त मिलेगा LPG कनेक्शन

धुएं से मुक्ति का महाप्रयास
केंद्र की मोदी सरकार ने ग्रामीण इलाकों की गरीब महिलाओं की जिंदगी में बदलाव के उद्देश्य से ही पिरधानमंत्री उज्जवला योजना का शुभारंभ किया था. जिससे देश की आधी आबादी के स्वास्थ्य को बचाया जा सके. ग्रामीण इलाकों में जो महिलाएं खाना पकाने के लिए लकड़ी और गोबर के उपलों का इस्तेमाल करती हैं धुएं के कारण उनके स्वास्थय पर उसका गलत प्रभाव पड़ता है आंख और सांस की बीमारी आम हो रही है.

जिलाधिकारी कहिन
जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह के मुताबिक सौभाग्य योजना, उज्जवला योजना, ग्रामीण स्वच्छता अभियान और प्रधानमंत्री आवास योजना आदि जितनी भी महत्वपूर्ण योजनाएं हैं, उसमें अलीगढ़ के जो हालात हैं वो सबसे ज्यादा अच्छे हैं.

एक नजर इधर भी…

 सवाल आरक्षण : सवर्णों देना कितना सही कितना गलत

सिर्फ हिंदू नहीं बल्कि मुस्लिम और ईसाई भी होते हैं सवर्ण! जानिए कैसे मिलेगा आपको फायदा 

सुशांत को पसंद आया अंकिता का नया अवतार, कमेंट में लिखा- ‘ये शानदार है’

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *