अयोध्या के बाद अब इन धर्मस्थलों को मुक्त कराने की उठी मांग…

अन्य जिले अपना लखनऊ होमपेज स्लाइडर

प्रयागराज: राममंदिर निर्माण के साथ ही मथुरा (MATHURA) और काशी (KASHI) की मांग भी जोर पकड़ने लगी है. इस सिलसिले में आज प्रयागराज में साधु-संतों की बड़ी संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (Akhada Parishad) ने बैठक की. इस बैठक में ये प्रस्ताव पास हुआ कि, अब मथुरा (MATHURA) और काशी (KASHI) के तीर्थ स्थलों को मस्जिदों से मुक्त कराया जाएगा. बैठक में इस बात पर चर्चा हुई कि, पहले बातचीत से इस मसले को सुलझाया जाएगा और अगर ऐसा नहीं हुआ तो अदालत का सहारा लिया जाएगा. इस मुद्दे पर अखाड़ा परिषद ने इस मामले में RSS और VHP से समर्थन मांगा है ।

नरेंद्र गिरी का बयान…

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी (NARENDRA GIRI) ने बताया कि, ‘बैठक में सभी के समर्थन से यह प्रस्ताव पारित किया गया है कि काशी विश्वनाथ (KASHI) में जो ज्ञानवापी मस्जिद है वह हिंदुओं के मंदिर को तोड़कर बनाई गई है. इसी तरह से मथुरा (MATHURA) में जो मकबरा है वह मंदिरों को तोड़कर बनाई गई है. इन दोनों को मुक्त कराने का निर्णय हमने लिया है. हम विश्व हिंदू परिषद (VHP) राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) और अन्य हिंदू संगठनों के साथ मिलकर इसकी लड़ाई लड़ेंगे और हमें विश्वास है कि ये दोनों स्थान मुक्त होंगे. इसके लिए हमारा पहला प्रयास होगा कि मुसलमान भाइयों के साथ इस पर आम सहमति बने ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *