पीलीभीत में 37 कोरोना संक्रमितों ने हटाया क्वारंटाइन स्टैंप, मचा हड़कंप

अपना लखनऊ लाइफस्टाइल/हेल्थ होमपेज स्लाइडर

लखनऊ : मक्का से उमरा कर लौटे एक जत्थे में शामिल 37 लोगों ने जो किया, वह चौंका देने वाला है. हाथों पर लगा क्वारंटाइन स्टैंप पहले खास परफ्यूम से मिटाया और फिर चकमा देकर अपने घर पहुंच गए. मामला उत्तर प्रदेश के पीलीभीत का है. मामले का खुलासा तब हुआ जब जत्थे में शामिल एक महिला की तबीयत खराब हो गई. बाद में पता चला कि महिला तो कोरोना पॉजिटिव है. अब महिला का बेटा भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है.

25 लोग सिर्फ एक ही गांव के

पीलीभीत में अमरिया एक तहसील है. यहां के करीब आधे दर्जन गांवों से 37 लोग कुछ दिनों पहले उमरा करने गए थे. 25 लोग तो सिर्फ एक ही गांव हरार्पुर के थे. मक्का से मुंबई होते हुए बीते 19 मार्च को सभी घर वापस लौटे थे. मुंबई एयरपोर्ट पर सभी के हाथों पर क्वारंटाइन की मुहर लगा गई थी. मगर, साथ लाए विदेशी परफ्यूम से उन्होंने स्टैंप को इस कदर मिटा दिया कि किसी को पता न चले.

मुंबई से फ्लाइट की जगह ट्रेन से आए

मुंबई से लखनऊ फ्लाइट पकड़ने पर फिर से जांच-पड़ताल में उलझने का डर था तो जत्थे में शामिल लोगों ने ट्रेन से आना उचित समझा. ट्रेन से लखनऊ पहुंचने के बाद सभी बस से पीलीभीत के गांवों में अपने घर लौटे. लौटने वाले दिन ही जत्थे में शामिल हरार्पुर की महिला की हालत बिगड़ गई तो उसे जिला अस्पताल ले जाया गया.

मां बेटा दोनों हैं कोरोना संक्रमित

विदेश से आने के कारण डॉक्टर्स को कोरोना का शक हुआ तो नमूना केजीएमयू लखनऊ भेजा गया. 22 मार्च को आई जांच रिपोर्ट से पता चला कि महिला को कोरोना है. महिला के परिवार के अन्य सदस्यों का भी टेस्ट हुआ. बाद में पता चला कि बेटे को भी कोरोना हुआ है. बेटा भी मां के साथ उमरा करने मक्का गया था.

 

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *